Subscribe Us

आर्थिक तंगी के कारण युवक ने फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या, आम के बाग में पेड़ से लटकता मिला शव

  योगेश कुमार

अजान खीरी। थाना हैदराबाद क्षेत्र के गांव बाबरपुर 56 वर्षीय राजेंद्र प्रसाद बर्मा उर्फ पुत्तू लाल वर्मा ने रस्सी का फंदा बनाकर आम के बाग में पेड़ की डाली से लटक कर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची थाना हैदराबाद पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
   बीती सुबह लगभग 4:00 बजे अपने घर से करीब आम के बाग में पेड़ की डाली से प्लास्टिक रस्सी से के सहारे फंदा बनाकर राजेंद्र प्रसाद ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। गांव के बाहर आम की बाग में युवक की फांसी लगाने की सूचना की खबर क्षेत्र में आग की तरह फैल गई और हड़कंप मच गया। कुछ ग्रामीणों ने आम की बाग में लटके राजेंद्र प्रसाद वर्मा शव की सूचना हैदराबाद पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे परिजनों में पत्नी बेटा विक्रम, विकास, विक्रांत ने अपने पिता के शव को लटकता देखकर भावुकता से रोने लगे।
युवक की पत्नी चेतन वर्मा ने बताया की हमारे पति राजेंद्र प्रसाद वर्मा काफी दिनों से आर्थिक तंगी से जूझ रहे थे और किसानी के बजाए कोई दूसरा जरिया नहीं था इसलिए हमारे पति काफी परेशान रहते थे। वह काफी टेंशन में रहा करते थे वही विकास पटेल मृतक राजेंद्र प्रसाद ने पुलिस को दिए तहरीर में आरोप लगाया है कि हमारे पिता छोटे किसान थे वह क्षेत्रीय लेखपाल विजय मिश्रा राजस्व निरीक्षक विजय श्रीवास्तव से परेशान थे क्योंकि राजस्व निरीक्षक लेखपाल हमारे पिता से ₹10000 की मांग कर रहा था हमारे पिता ने पैसे देने से असमर्थता जताई मगर इन अधिकारियों ने मेरे पिता के ऊपर नाजायज तरीके से दबाव डाला और 24 /5 /2021 को समय 11:30 बजे आकर उनका खेत को झाबर में निकाल दिया था। इससे हमारे पिता राजेंद्र प्रसाद को मानसिक आघात और गहरा सदमा पहुंचा इसी सदमे मे और वह इसी सदमे से उभर नहीं पा रहे थे। और वह लेखपाल राजस्व निरीक्षक से परेशान होकरआज सुबह लगभग 4:00 बजे उन्होंने आत्महत्या कर ली है। वही विकास पटेल ने  बताया कि उक्त घटना हमारे पिताजी हमसे बताया करते थे इसलिए दोषी लेखपाल राजस्व निरीक्षक के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की मांग की है। वही ग्रामीणों व परिजनों के साथ ही हैदराबाद पुलिस ने सभी की मदद से शव को पेड़ से नीचे उतारकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ