Subscribe Us

लखनऊ के सोनू सूद बने विराज सागर दास, लोगो की मदद के लिए संभाली लखनऊ की कमान

 


मोहम्मद सैफ साबरी

  लखनऊ। देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर अपने चरम पर है। देश के अंदर मानो मौतों का भूचाल आ गया हो। चारों तरफ अफरा तफरी का माहौल, जिसमें उत्तर प्रदेश की स्थित तो बहुत ही भयावाह नज़र आ रही है। रोज़ाना हो रहीं हज़ारों मौतों ने हर एक व्यक्ति को झकझोर कर रख दिया। इतनी दहशत कि लोग खुद ही अपने घरों में  ही कोरेन्टीन हो कर क़ैद हो गए। यहां तक व्य्पारियों ने बाज़ार अपने आप बन्द कर लिये। इस तरह का दहशत ज़दा माहौल इस से पुर्व कभी देखने को नहीं मिला। 

  यहां तक कि लोग भुखमरी की कगार पहुंच गए। लेकिन खाना खिलाने की ज़िम्मेदारी इश्वर ने खुद ले रखी है इसी के तहत जनता में ही से कुछ संगठन आगे आते हैं। और गरीब बे सहारा लोगों के खाने का इन्तिज़ाम कर उन तक खाना पहुंचाने का काम करते हैं। 

लोगो के लिए मसीह बानी बीबीडी ग्रुप टीम

बीबीडी ग्रुप की टीम ने शहर में जब-जब आपदा की घड़ी आई है, तब ताब इस परिवार ने शहर के लोगों की दिल खोलकर मदद की, बीबीडी ग्रुप के चेयरमैन विराजदार सागर दास ने अपने पिता द्वारा छेड़ी गई जन सेवा कार्य को आगे बढ़ाते हूए लोगों की मदद कर चार चाँद लगा कर नए आयाम तक पहुचा कर सर बुलंद कर नाम रौशन किया है। ऑक्सीजन,एंबुलेंस,दवाइयां, राशन और खाना बेसहारा लोगों तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं। पूरी टीम बखूबी इस काम को अंजाम दे रही है। विराज सागर दास ने डॉक्टरों की एक  टीम भी गठित की है। ताकि खाने और मेडिसिन का विशेष ध्यान रखा जाए। 

खाना बनाने और पहुंचाने वाली टीम का किया गठन

 खाना बनाने वाली और लोगों तक खाना पहुंचाने वाली एवं सफाई कर्मियों की भी टीम गठित की गई है। ताकि लोगों तक जो भी चीज पहुंचे उसका विशेष ध्यान रखा गया है। साथ ही साथ अपने पिता के सपने को भी साकार कर रहे हैं। बेसहारा लोगों की मदद करने को  बीबीडी ग्रुप अपना भाग समझता है। यह सारे कार्य विराज सागर दास की सरपरस्ती में बखूबी अंजाम दिये जा रहे हैं। बीबीडी ग्रुप पिछले साल से लगातार लॉकडाउन से लगातार एंबुलेंस, दवाइयां, राशन,और खाना वितरण करने का कार्य कर रहा हैं। इस वर्ष भी आपदा की घड़ी में बीबीडी गुरुप मसीहा बनकर सामने आया। शहर के हॉस्पिटलों में एडमिट कोरोना मरीजों और परिजनों के लिए दो वक्त का खाना मिनरल वाटर एवं मास्क पहुंचाने का कार्य भी सकुशल  अंजाम दे रहे है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ