Subscribe Us

रिमझिम बारिश में पलिया के सुदूरवर्ती गांवो में पहुचे नोडल, जानी डोर टू डोर सर्वे की जमीनी हकीकत

सब सेन्टर परसिया की अव्वल संचालन देख प्रसन्न हुए नोडल अधिकारी, एएनएम क्रांति राणा को देंगे प्रशस्ति पत्र

ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी 

लखीमपुर खीरी। बुधवार को ज़िले के नोडल अधिकारी/आयुक्त, लखनऊ मंडल-लखनऊ रंजन कुमार ने डीएम शैलेन्द्र कुमार सिंह के साथ रिमझिम बारिश के बीच तहसील पलिया के सुदूरवर्ती चंदन चौकी क्षेत्र के गांवों का भ्रमण कर हाउस टू हाउस सर्वे कर रही टीमों के काम को देखा व परिवार कल्याण एएनएम उपकेंद्र धुसकिया व रामनगर तिराहा, चंदन चौकी का स्थलीय निरीक्षण किया।

सर्वप्रथम नोडल अधिकारी ने परिवार कल्याण एएनएम उप केंद्र धुसकिया पहुचे, जहाँ केंद्र की अव्वल व्यवस्थाएं देख नोडल अधिकारी ने उपकेंद्र संचालिका एएनएम क्रांति राणा को अपने स्तर से प्रशंसा/प्रशस्ति पत्र देने की बात कही। नोडल के पूछने पर एएनएम ने बताया कि गत एक वर्ष में कुल 124 सुरक्षित प्रसव, अप्रैल से अबतक 19 सुरक्षित प्रसव कराए। वही 05-06 प्रसव मामलों में चेकअप के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पलिया के लिए रेफर किया। प्रसव के उपरांत जच्चा-बच्चा को सेन्टर में भर्ती रखते है। एएनएम ने उपलब्ध दवाओ व उनके उपयोग की जानकारी दी। उन्होंने कहा इस परिवार कल्याण उप केंद्र से अन्य सब सेन्टर को प्रेरणा लेनी चाहिए।

इसके बाद ग्राम धुसकिया पहुंचकर सर्वे टीमो द्वारा किए गए डोर टू डोर सर्वे की पड़ताल की। आशा कार्यकत्री विमला देवी ने बताया कि उनके पास 13 मेडिकल किट उपलब्ध है। गांव में कोई भी सिम्प्टोमैटिक व्यक्ति नही है, बल्कि सभी बिल्कुल ठीक है। ग्रामवासियों से बात कर नोडल ने कहा कि एएनएम व आशा कार्यकर्ती के पास पर्याप्त मात्रा में मेडिकल किट उपलब्ध है, कोई भी लक्षण परिलक्षित होने पर तत्काल उनसे संपर्क कर मेडिकल किट प्राप्त कर सकते हैं। इस दौरान उन्होंने गांव की साफ सफाई व्यवस्था देख ख़ुशी जाहिर की। गांव में भ्रमण कर फेरुलाल व रामबरन के घर जाकर उनका व उनके घर वालों का हालचाल जाना। उन्होंने कहा कि सरकार ने तीन माह तक निशुल्क खाद्यान्न की भी व्यवस्था की है।

इसके बाद परिवार कल्याण एएनएम उपकेंद्र रामनगर तिराहा, चंदन चौकी पहुंचकर केंद्र संचालिका अंजू बाजपेई से गत एक वर्षों में हुए प्रसवो की जानकारी ली। जिसपर एएनएम श्रीमती बाजपेई ने बताया कि गत एक वर्ष में 190 सुरक्षित प्रसव कराए, सभी को जननी सुरक्षा योजना से भी लाभान्वित किया गया।  वही इस ग्राम में सर्वे टीमों से डोर टू डोर सर्वे में चिन्हित सिंप्टोमेटिक व्यक्तियों की जानकारी ली। मौजूद आशा कार्यकत्री ने बताया कि दो व्यक्तियों को मेडिकल दी गई, जो पूर्ण रूप से स्वस्थ है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में भ्रमण से लेकर यह सुनिश्चित करें कि कोई भी सिंप्टोमेटिक व्यक्ति मेडिकल किट से वंचित न रह जाए।

इस दौरान सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल, उपजिलाधिकारी डॉ अमरेश कुमार, सीओ पलिया राजेश कुमार, खंड विकास अधिकारी डॉ विनय कुमार, परियोजना अधिकारी यू के सिंह मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ