Subscribe Us

पलिया में वीकेंड लॉकडाउन का नहीं दिख रहा असर

   ब्यूरो अंकुल गिरी 

पलिया कलां खीरी।  वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप जिले में लगातार बढ़ता जा रहा है। औसतन प्रतिदिन 100 से अधिक लोग संक्रमित मिल रहे हैं। इसके बावजूद लोग हैं कि मानने को तैयार नहीं हैं। वीकेंड लॉकडाउन में भी जहां चोरी छिपे दुकानें खुल रही हैं। वहीं नगर के छोटे बड़े वाहन नेपाली यात्रियों को बैठाकर  फर्राटा भर रहे हैं। इनता हीं नहीं बिना वजह लोगों को मुख्य मार्ग, गली व चौराहों में टहलते देखा जा रहा है। इस तरह से कई बड़े बड़े होटल और कैंटीन भी चोरी छिपे चालाए जा रहें हैं। जिन पर कार्रवाई तो दूर पुलिस इन्हें टोकना भी मुनासिब नहीं समझ रही है। वही जिले के डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह के आदेशानुसार फल, सब्जी, दूध, किराना आदि आवश्यक सामग्री की दुकानें खुलने का आदेश जारी करतें हुए टाइम टेबल दिया गया। लेकिन कुछ लोगों द्वारा इस आदेश की जम कर धज्जियां उड़ाई जा रही थी और पुलिस प्रशासन हाथ पर हाथ धरे तमाशबीन बनी हुई है। वीकेंड लॉकडाउन का अब तक अनुपालन नहीं हो सका। सोमवार को भी इसका कहीं असर देखने को नहीं मिला। पलिया सहित  अन्य कस्बों व बाजारों में जहां दुकानदार चोरी छिपे व्यापार करते नजर आए। वहीं छोटे वाहन चालक क्षमता से अधिक सवारियों को बैठाकर सामान्य दिनों की भांति फर्राटे भरते देखे गए।

इतना ही नहीं चाहे गांव की गलियां रही हों या फिर नगर के मुख्य मार्ग। सभी जगह अनावश्यक रूप से लोगों को टहलते देखा जा रहा है। वहीं तहसील भिनगा परिसर में संक्रमित मिलने के बावजूद अपंजीकृत मुंशी आदि भी बैठे नजर आ रहे हैं। जबकि देखा जाए तो जिले में काफी संख्या में लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। जिला प्रशासन की ओर से भी चौराहों व तिराहों सहित गांवों में नोडल अधिकारियों को भेज कर लोगों से कोरोना प्रोटोकाल के अनुपालन की अपील कराई जा रही है। साथ ही लोगों को अनिवार्य रूप से मास्क लगाने व सामाजिक दूरी का अनुपालन करने की अपील भी की जा रही है। इसके बावजूद न तो लोग शत प्रतिशत प्रोटोकॉल का अनुपालन कर रहे हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ