Subscribe Us

पुलिस बर्बरता में मारे गए फैसल के घर बांगरमऊ पहुंची उ०प्र० जमियतुर्राइन की टीम

   सगीर अमान उल्लाह

   उन्नाव/बाराबंकी। उत्तर प्रदेश जमियतुर्राइन के अध्यक्ष मो सिद्दीक पहलवान की अध्यक्षता में प्रदेश महासचिव शमशाद आलम राईन तथा संरक्षक शमशाद अहमद के साथ तीन सदस्यीय टीम बांगरमऊ ज़िला उन्नाव पहुँच कर फैसल के परिवार से मिली।

टीम ने पुलिसिया बर्बरता का शिकार हुए फैसल के घर पहुँच कर परिवार से मिलकर हालात का जायज़ा लेने के साथ साथ घटना स्थल का निरीक्षण भी किया। जिससे बहोत सी बातेँ सामने आई। मालूम हुआ कि फैसल को पुलिस द्वारा बेहद घनी मुस्लिम आबादी वाले क्षेत्र से उठाया गया था। प्रदेश अध्यक्ष सिद्दीक पहलवान ने बताया क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त है।

6 लोगों के परिवार में एकलौता कमाने वाला 17 वर्षीय फैसल निहायत ही ग़रीब घर से था, अब परिवार में पाँच लोग हैं जिसमें माँ-बाप बेहद वृद्ध हैं जो हमेशा बीमार रहते हैं, एक बड़ा भाई पैर से मजबूर है जिसके पास कोई काम नहीं हैं, छोटा भाई बहोत छोटा है, एक शादीशुदा बहन जो किसी कारण वश घर में ही रहती है घर चलाने वाला फिलहाल अब कोई नहीं रहा। परिवार के सदस्यों ने बताया कि प्रशासन के आला अधिकारियों ने दौरा कर सांत्वना देने के सिवा अभी तक कुछ भी नहीं किया है। उत्तर प्रदेश शासन के किसी भी मंत्री ने अभी तक सुध तक नहीं ली है। परिवार ने ये भी बताया कि फैसल के मौत के बाद पुलिस द्वारा मुकामी लोगों को उकसाने की कोशिस की गई। जिससे इलाके में पुलिसिया खौफ़ की बात लोगों के द्वारा कही गई हैं।

   माँ की आँखों से आँसू थमने का नाम नहीं ले रहा पीड़ित परिवार को इंसाफ़ कब मिलेगा, और उचित मुआवजा मिलेगा या नहीं यह तो भविष्य के गर्त में है लिहाज़ा उत्तर प्रदेश जमीयतुर्राइन ने अपने समाज सहित सभी लोगों से अपील है कि पीड़ित परिवार की जो भी मदद हो पोशीदगी के साथ करें, ताकि परिवार की ग़ैरत को किसी भी तरह ठेस ना पहुंचे और सभ्य समाज के होते हुए परिवार को फैसल की कमी मेहसूस ना होने पाए। इसके लिए फैसल की मां से भी संपर्क कर सकते हैं।

फैसल के मां का अकाउंट नंबर या कोई डिटेल्स फैसल के चचेरे भाई सलमान को फोन कर के ले सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ