Subscribe Us

ग्रामीण अंचलों की पंचायतों में भी अब निर्धारित की जाएगी विपक्ष की भूमिका

रिपोर्ट राकेश पाण्डेय

      सीतापुर। भारतीय किसान मंच उत्तर प्रदेश के मुंशी गंज स्थित जिला कार्यालय पर शिव प्रकाश सिंह प्रदेश अध्यक्ष भारतीय किसान मंच उत्तर प्रदेश की मौजूदगी में जिला अध्यक्ष अंबुज श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं/पदाधिकारियों की आपातकालीन आवश्यक बैठक सम्पन्न हुई।

    बैठक के दौरान वर्तमान में समूचे भारत में फैली कोरोना महामारी के लिए केन्द्र सरकार और उत्तर प्रदेश में फैली महामारी के लिए प्रदेश सरकार को दोषी ठहराते हुए जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक करने पर बल दिया गया। बैठक के दौरान प्रदेश अध्यक्ष शिव प्रकाश सिंह ने सम्पन्न हो चुके पंचायत चुनावों में भा०कि०मंच से समर्थित जिला पंचायत सदस्यों, प्रधानों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों हेतु उम्मीदवारों की सफलता के लिए उन्हें बधाई देकर लड़ाई में रहकर असफलता पाये उम्मीदवारों को सांत्वना देते हुए भविष्य की रणनीति पर चर्चा कर भविष्य की रूप रेखा तय करने की बात कही।

     महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष अल्पना सिंह ने कहा कि अब वो समय आ चुका है हम सभी को एकजुट होकर ग्रामीण अंचलों में भी लोकसभा,राज्य सभा,और विधानसभाओं व विधानपरिषदों की तरह विपक्ष की स्थापना करनी होगी। वर्तमान शासन,  प्रशासन से मिलकर ग्रामीण सरकारों को निष्क्रिय कर अपना स्वार्थ सिद्ध करने का आदी हो चुका है।  

    मण्डल अध्यक्ष सरदार निर्भय सिंह ने कहा कि अब हम सभी को जागरूकता अभियान चलाकर इस दिशा में व्याप्त अनियमितताओं को दूर करना है, तभी वास्तविक लोकतंत्र का स्वरूप विकसित हो पाएगा। मंडल प्रभारी जितेन्द्र मिश्र ने जिला प्रशासन द्वारा की जा रही लापरवाही और ग्रामीणों में व्याप्त असंतोष पर प्रकाश डाला। जिला अध्यक्ष अंबुज श्रीवास्तव ने कहा कि वर्तमान पंचायत चुनावों में चुनी गई ग्रामीण सरकारों को जनता के विश्वास पर खरा उतरना होगा,जहां कहीं से भी शिकायत मिलेगी भारतीय किसान मंच आन्दोलन के लिए बाध्य होगा।मनरेगा सहित ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित सभी योजनाओं का वास्तविक लाभ पात्रों तक पहुंचाना ही हम सभी का उद्देश्य होना चाहिए।

     बैठक में मुख्य रूप से जिला कोषाध्यक्ष डा०इस्लामुद्दीन अंसारी, जिला सचिव मासूम अली,बिसवां तहसील अध्यक्ष नीरज यादव, तहसील सचिव शिवपूजन,प्रदीप वर्मा ब्लाक अध्यक्ष लहरपुर व जगतपाल, रामरतन आदि लोग उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ