Subscribe Us

तेज आंधी बारिश के चलते गिरी स्कूल की चहारदीवारी, आम का पेड़ गिरने से दुकाने नष्ट

  रिपोर्ट राकेश पाण्डेय

     सीतापुर(हरगांव)। स्थानीय थाना क्षेत्र के एक गांव में प्राथमिक विद्यालय की बाउण्ड्री वाल तेज बारिश व आंधी के चलते आज रात्रि लगभग 11:00 बजे गिर गई। दूसरी ओर आम के पेड़ के गिरने से बाजार में बनी छावनी पूरी तरह से ध्वस्त हो गई। ईश्वरीय कृपा से यह घटना दिन में नहीं घटित हुई। काश यही आंधी दिन के समय आई होती, तो किसी अनहोनी घटना घटित होने से इंकार नहीं किया जा सकता था।

      प्राप्त जानकारी के अनुसार हरगांव थाना क्षेत्र के अन्तर्गत ग्राम  सलारपुर में तेज आंधी व बारिश के चलते सरकारी स्कूल की 4 इंची बनी चहारदीवारी गिर गई। उधर उच्च माध्यमिक विद्यालय के मुख्य गेट पर आम का पेड़ गिर जाने से गेट पूरी तरह से नष्ट हो गया । बाजार में बनी छावनी भी  आम का एक पुराना पेड़ गिर जाने से बाजार की छावनी नष्ट हो गई । तेज आंधी व बारिश के चलते काफी नुकसान होने की  सूचनाएं मिल रही हैं।

   क्षेत्र से भी आंधी व बारिश के चलते ओले भी गिरने की सूचना मिली है । तेज आंधी से बिजली व्यवस्था भी चरमरा गई। अनेकों विद्युत पोल जमीन पर गिर गये, अनेकों स्थानों पर विद्युत तार टूट गये। लहरपुर से हरगांव आने वाली ३३केवी के पांच खम्भों वह सात नंबर लाइन का केबिल पोल टूट जाने के बाद सरकारी नलकूप पर लगा ट्रान्सफार्मर नीचे गिर गया जिस कारण अनेकों गांवों की विद्युत आपूर्ति बाधित हो गई। 

      विद्युत आपूर्ति बाधित हो जाने के बाद भारी उमस के  चलते रोजदारों सहित बढ़ते कोरोना संक्रमण पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से घर में ठहरे लोगों में त्राहि-त्राहि मच गई।

     विद्युत आपूर्ति बहाल करने के उद्देश्य से उप विद्युत वितरण खण्ड हरगांव के संविदा कर्मी पियूष श्रीवास्तव के नेतृत्व में कड़ी मशक्कत के बाद दुलारे, रमेश, अनुपम, शिवनंदन, संतोष,आदि कर्मियों ने बिना समय गंवाए जमीन पर गिरे विद्युत पोलों को को सही करते हुए ध्वस्त हुई केविल/ तारों को दुरुस्त कराया।

       क्षेत्रीय जनों का कहना है, कि बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण में जब सभी अपने अपने घरों में  सिमटे हुए हैं तब यह संविदा कर्मी अपनी जान जोखिम में डालकर जनता की सेवा में तत्पर हैं कड़ी मेहनत के बाद विद्युत व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए क्षेत्रीय जनों ने संविदा कर्मियों को दिल से धन्यवाद दिया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ