-->
कृषि कानून के खिलाफ चलाये जा रहे आंदोलन के 6 माह पूरे होने पर भारतीय किसान यूनियन ने मनाया काला दिवस

कृषि कानून के खिलाफ चलाये जा रहे आंदोलन के 6 माह पूरे होने पर भारतीय किसान यूनियन ने मनाया काला दिवस

   सत्य स्वरूप संवाददाता

 बाराबंकी। दिल्ली में किसानों द्वारा चलाए जा रहे धरना प्रदर्शन को 6 माह पूरे होने पर भारतीय किसान यूनियन द्वारा आज  काला दिवस मनाया गया। इस दौरान किसानों ने अपनी छतों पर काले झंडे लगाए और तीनो कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के सम्बंध में राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन द्वारा जिलाधिकारी बाराबंकी सौंपा गया।

    ज्ञापन में मांग की गई है कि केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए तीन कृषि सुधार विधेयक जो की पूरी तरह किसान विरोधी है जिसका विरोध पूरे देश में भारतीय किसान यूनियन तथा अन्य किसान संगठनों द्वारा किया जा रहा है तथा जिनमें भारतीय किसान यूनियन द्वारा प्रमुख मांगे की जा रही है। 

1- केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि सुधार कानून को पूरी तरह समाप्त किया जाए।

2- न्यूनतम समर्थन मूल्य पर कृषि उपज फल एवं सब्जी के खरीदने को कानून बनाया जाए तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम खरीद को दंडनीय अपराध निश्चित किया जाए।


3- कृषि वैज्ञानिक एम.एस. स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट तत्काल लागू की जाए।

4- छुट्टा जानवरों जैसे सांड, गाय, नीलगाय आदि से फसलों को बचाने के लिए पंचायत स्तर पर मुहिम चलाकर जानवरों को गौशाला पहुंचाया जाए।

5- मेंथा को कृषि फसल का दर्जा दिया जाए!

     ज्ञापन को संबोधित करते हुए तहसील अध्यक्ष मोहम्मद रियाज ने कहा यदि भारत सरकार काला दिवस के पश्चात भी ना सचेत हुई तो राष्ट्रीय स्तर के आवाहन पर भव्य प्रोग्राम किया जाएगा।

   इस मौके पर तहसील उपाध्यक्ष मेराज अहमद उर्फ बबलू भाई, ब्लॉक अध्यक्ष मसौली इरफान अली, ब्लॉक उपाध्यक्ष मसौली मोहम्मद तोहिद , संतोष नाग, राजकुमार, संतोष खटीक आदि मौजूद रहे।

0 Response to "कृषि कानून के खिलाफ चलाये जा रहे आंदोलन के 6 माह पूरे होने पर भारतीय किसान यूनियन ने मनाया काला दिवस"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4