Subscribe Us

युवा प्रधान विक्की की अचानक मौत से सदमे में है लोग,बंकी ब्लाक में शोक की लहर

ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह

बाराबंकी। "उजाले अपनी यादों के  हमारे साथ रहने दो न जाने किस गली में  ज़िंदगी की शाम हो जाए"। जी हां किसी शायर की इन पंक्तियों को अक्सर गुनगुनाने वाला युवा प्रधान लोकनाथ यादव विक्की 32 साल की छोटी उम्र में अचानक मौत का शिकार हो गए। बंकी ब्लाक के ग्राम चचेरुवा बहादुरपुर निवासी समाजसेवी पूर्व प्रधान अहिबरन सिंह के बड़े बेटे भी जनता के दुलातमरे थे लोकप्रियता का आलम ये था की विक्की पिछला पंचायत चुनाव लड़कर ब्लाक की सबसे बड़ी जीत दर्ज करके नया इतिहास बनाया था। इस चुनाव में भी जनता ने भरपूर प्यार दिया था। परिवार के मुताबिक 26 अप्रैल को मतदान से पूर्व दिन रात मेहनत की वजह से थकावट महसूस हुई सूगर का लेवल बढ़ गया था। खांसी सांस प्रॉब्लम होने के बाद शेखर अस्पताल में में एडमिट कराया गया। यंहा मौत ने इलाके के नौजवान लीडर को अपनी आगोश में ले लिया। इस हादसे की खबर मिलते ही भारी शंख्या में लोग उनके पैतृक गांव दौड़ पड़े। उनके साथी रिंकू वर्मा ने बताया कि पत्नी शिखा यादव से 3 बच्चे कृष्ना 9 रूद्र 5 और दो साल को बेटी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ