-->
पंचायत चुनाव के लिए वाहन जुटाने में लगें अधिकारी, आचार संहिता लगते ही निर्वाचन अधिकारी की तैयारी शुरू

पंचायत चुनाव के लिए वाहन जुटाने में लगें अधिकारी, आचार संहिता लगते ही निर्वाचन अधिकारी की तैयारी शुरू

   ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी विरेन्द्र

पलिया कलां खीरी। पंचायत चुनाव के लिए आचार संहिता लगने के साथ ही चुनाव प्रक्रिया ने गति पकड़ ली है। जनपद में पहले चरण में चुनाव होना है वह भी एक साथ। ऐसे में पोलिग पार्टियों को बूथों तक भेजने के लिए काफी वाहनों की आवश्यकता होगी जिले में चुनाव के लिए बड़े और छोटे वाहनों की आवश्यकताओं के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। चुनाव आयोग ने 19 अप्रेल दूसरे चरण में चुनाव तिथि घोषित की। चुनाव के लिए मिले समय में होली का पर्व पर्व भी था जिसको शांति पूर्ण तरिके से निपटाते हुए चुनाव की तैयारियों में फिर से जुट गए हैं, सबसे अधिक चुनौती वाहन जुटाना  होता है, सेक्टर, जोनल मजिस्ट्रेटों और सुरक्षा बलों को भी वाहन उपलब्ध कराना होता है। निर्वाचन विभाग ने बड़े और छोटे वाहनों की डिमांड करते हुए जल्द पूरा करने के लिए कहा है।

    जनपद में छोटे वाहनों की तो किसी तरह व्यवस्था करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन बड़े वाहनों की  को भी अपने तय समय से पहुंचने के लिए पत्र देकर  आग्रह किया जा रहा है। वही पलिया कलां पहुंचे अधिकारियों ने पीडब्ल्यूडी के बाहर खड़े कई वाहनों पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951की धारा 160 के आदेश चस्पां करते हुए सभी वाहन स्वामी और ड्राइवरों का लाईसेंस एवं फार्म चेक किया गया। जैसे ही यह खबर अन्य वाहन चालकों को पता लगी जानो कोई आफ़त आ गई हो, कुछ लोगों ने तो तुरंत अपने-अपने वाहनों को लेकर इधर उधर भागने लगे और जो पकड़े गए उनको चुनाव डयूटी पत्र लगाकर 16/4/2021 को राजकीय इण्टर कॉलेज मैदान लखीमपुर-खीरी प्रभारी अधिकारी निर्वाचन यातायात लखीमपुर-खीरी को सुपुर्द कर देने के लिए कहा। चुनाव के लिए वाहनों के अधिकृत स्वामियों को नोटिस दी जा रही है। निर्धारित स्थल पर 19 अप्रैल तक हरहाल में वाहन खड़ा करना है। जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देश पर वाहन न खड़ा करने वालों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया जाएगा।

0 Response to "पंचायत चुनाव के लिए वाहन जुटाने में लगें अधिकारी, आचार संहिता लगते ही निर्वाचन अधिकारी की तैयारी शुरू"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4