-->
मुख्य सचिव ने अधिकारियों को दिए निर्देश- कोरोना मरीजो के लिए न होने पाए बेड की कमी

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को दिए निर्देश- कोरोना मरीजो के लिए न होने पाए बेड की कमी

 सचिन कुमार श्रीवास्तव

लखनऊ। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से कोविड-19 के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक की। बैठक में सभी सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों आदि द्वारा प्रतिभाग किया गया। 

अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड चिकित्सालयों में रेमिडीसीवर इंजेक्शन और आक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित रहे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी भी जनपद में आवश्यक दवाईयों के साथ-साथ आक्सीजन व बेड की कमी न होने पाये। जनपदवार कोविड मरीजों के लिए बेड, उपकरण, दवाओं तथा आक्सीजन की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि जनपदों से जो भी डिमाण्ड आ रही है, तत्काल उसे उपलब्ध कराने की कार्यवाही की जाये, आपूर्ति हेतु समय से सभी आर्डर अवश्य प्लेस कर दिये जायें। 

उन्होंने कहा कि कोविड बेड की संख्या में बढ़ोत्तरी के लिए तेजी से कार्यवाही सुनिश्चित कराते हुए उनके लिए आवश्यक चिकित्सक, पैरा मेडिकल स्टाफ तथा जरूरी अन्य मानव संसाधन व मेडिकल उपकरण आदि की भी व्यवस्था पहले से कर ली जाये।

उन्होंने कहा कि जो मरीज गंभीर हैं, उन्हें तत्काल हाॅस्पिटल में भर्ती कराया जाये, तथा इसमें किसी भी प्रकार की कोताही न हो। उन्होंने आक्सीजन प्लान्ट्स को भी 24x7 संचालित कराने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने के निर्देश दिये ताकि किसी भी चिकित्सालय में आक्सीजन की कमी न होने पाये। उन्होंने कहा कि इंटीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर 24x7 सक्रिय रहे। एम्बुलेन्सों की गतिविधियों, कोविड चिकित्सालयों में बेड की उपलब्धता आदि को इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर से जोड़ा जाये। प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रतिदिन इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर में बैठक कर परिस्थितियों के अनुरूप रणनीति तय करें।

0 Response to "मुख्य सचिव ने अधिकारियों को दिए निर्देश- कोरोना मरीजो के लिए न होने पाए बेड की कमी "

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4