-->
आगामी विधानसभा में छोटे दलों के साथ चुनाव लड़ेगी समाजवादी पार्टी, ऐसी होगी चुनाव की रणनीति

आगामी विधानसभा में छोटे दलों के साथ चुनाव लड़ेगी समाजवादी पार्टी, ऐसी होगी चुनाव की रणनीति

 


सत्य स्वरूप संवाददाता

मुरादाबाद। समाजवादी आरटी अभी से 2022 विधानसभा की तैयारी में जुट गई है। सपा मुखिया अखिलेश यादव लगातार जिलावार पहुंच कर पार्टी के लोगों से बैठक कर चुनाव से संबंधित बात कर रहे हैं। बातचीत में पिछली सपा सरकार द्वारा किये गए कामों का हवाला दे रहे हैं। उन्होने यह भी ऐलान किया है कि अब बड़े दलों से गठबंधन नहीं होगा। सपा अबकी बार छोटे दलों के साथ मिल कर चुनाव लड़ेगी। मुरादाबाद में भी उन्होंने इस बात पर जोर दिया। 

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की कोशिश यही है कि जहां सुधार की गुंजाइश होगी वहां करेंगे। बातचीत में उन्होंने यह स्वीकारा कि बड़े दलों (कांग्रेस बसपा ) के साथ गठबंधन का अनुभव अच्छा नहीं रहा। इस वजह से इन दलों से दूरी बना कर रखेंगे। छोटे और स्थानीय दलों को आगामी चुनाव में तरजीह देंगे।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से ये भी बताया कि भाजपा से नाता रखने वाले दलों से भी दूरी बनाए रखें। उनसे जब यह सवाल किया गया कि क्या अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव की पार्टी प्रसपा से भी गठबंधन करेंगे तो उनका जवाब था वह भी छोटा दल है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुरादाबाद में संभल और मुरादाबाद के सांसद समेत कुछ और जनप्रतिनिधियों के घर पहुंच कर बात की।

फीडबैक लिया कि किस तरह तैयारी की जाए। सपा अध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा। प्रेस कांफ्रेंस के बाहर भारी संख्या में सपाई इंतजार में खड़े रहे। होटल हॉली डे में लंबे समय तक नेताओं का जमावड़ा रहा। 

कार्यक्रम में पत्रकारों व बाउंसरों में हुई झड़प, लगे समाजवादी पार्टी मुर्दाबाद के नारे

कार्यक्रम के दौरान अखिलेश के बाउंसरों और पत्रकारों में किसी बात को लेकर बहस हो गयी। बहस में हाथापाई की नौबत आ गयी। झल्लाये पत्रकारों ने ख़ूबजोरो से पार्टी मुर्दाबाद के नारे लगाए। पत्रकारों और बाउंसरों की झड़प का वीडियो सोशल मीडिया पर जोरो से वाइरल हो रहा है, जिसके बाद से पत्रकारों में सपा के खिलाफ नाराजगी साफ देखी जा सकती है।

0 Response to "आगामी विधानसभा में छोटे दलों के साथ चुनाव लड़ेगी समाजवादी पार्टी, ऐसी होगी चुनाव की रणनीति"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4