-->

ad

उन्नाव कांड को लेकर डॉ अंबेडकर राष्ट्रीय अधिवक्ता मंच ने मुख्यमंत्री व राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

उन्नाव कांड को लेकर डॉ अंबेडकर राष्ट्रीय अधिवक्ता मंच ने मुख्यमंत्री व राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

 ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह

बाराबंकी। उन्नाव में अनुसूचित जाति की तीन नाबालिग बेटियों के हाथ पैर बांध कर छोड़ दिया गया,जिससे दो लडकियो की रहसमय मौत हो गई एक लड़की मौत जिंदगी  से जूझ रही है उन्नाव सहित उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति/जनजाति समाज कि बहन बेटियों पर बड़े पैमाने पर अमानवीय जघन्य, मानवता को शर्मशार करने वाली घटनाएं सरकार के संरक्षण में दरिंदे कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश बहन बेटियों के लिए कब्रगाह बन गया है कानून व्यवस्था ध्वस्त है प्रदेश में जंगल राज कायम है ,सरकार का इकबाल ख़तम हो गया है।

डॉ अंबेडकर राष्ट्रीय अधिवक्ता मंच बाराबंकी के जिला संयोजक आर पी गौतम एडवोकेट ने पीड़ित परिवार के प्रति गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है और अधिवक्ताओं के प्रतिनिधि मंडल ने जिला अधिकारी बाराबंकी से मिलकर तीन सूत्री ज्ञापन पत्र  महामहिम राज्यपाल महोदय,मुख्य मंत्री जी को भेज कर घटना की उच्च स्तरीय जांच करा कर दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने एवम् पीड़ित परिवार को 50-50 लाख रूपए की आर्थिक मदद दिए जाने,आवास एवम् शौचालय उपलब्ध कराने की मांग प्रमुख रूप से को गई है । 

ज्ञापन पत्र देने वालो में प्रमुख रूप से डॉ अंबेडकर राष्ट्रीय अधिवक्ता मंच बाराबंकी के जिला संयोजक आर पी गौतम एडवोकेट, सुरेश गौतम एडवोकेट, सलिक राम धीमान एडवोकेट, कैलाश एडवोकेट, सतीश कुमार एडवोकेट, लखपति गौतम एडवोकेट, विनय कुमार धनगर एडवोकेट, कमलेश कुमार एडवोकेट, सुमेर सिंह एडवोकेट ,अमित गौतम एडवोकेट, राम सूचित रावत एडवोकेट,अभिषेक शर्मा एडवोकेट, अनिल पाल एडवोकेट, आशुतोष कुमार गौतम एडवोकेट,विकास यादव एडवोकेट ,अशोक यादव एडवोकेट, राकेश कुमार एडवोकेट, एन एल चौधरी एडवोकेट, कृष्ण गोपाल एडवोकेट, सुशील कुमार एडवोकेट, नीरज कुमार एडवोकेट, अरुण कुमार रावत एडवोकेट, आदि लोगों ने उक्त घटना की घोर निन्दा की।

0 Response to "उन्नाव कांड को लेकर डॉ अंबेडकर राष्ट्रीय अधिवक्ता मंच ने मुख्यमंत्री व राज्यपाल को भेजा ज्ञापन"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4