-->

ad

आखिर किसके इशारे पर ताल तलैया व ग्राम समाज की भूमि पर हो रहा कब्जा

आखिर किसके इशारे पर ताल तलैया व ग्राम समाज की भूमि पर हो रहा कब्जा

ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी विरेन्द्र

पलियाकलां-खीरी। जहां एक ओर योगी सरकार अपना कड़ा रूख अपनाते हुए उत्तर प्रदेश के हर जगह पर भू माफियाओं द्वारा कब्जा की गयी जमीनों को छुड़ाने के लिये एक मूहीम चलाकर एं टी माफिया छेड़ दी है लेकिन भू माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वह इस टीम को अवैध कब्जा करके खुलेआम चुनौती दे रहे हैं जबकि उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने तमाम भाषणों में भू माफियाओं को खुली चुनौती दे रहे हैं और साफ-साफ कह रहे हैं कि जितने भी अपराधी भू माफिया संगठित गिरोह है सभी उत्तर प्रदेश से भाग जाएं या फिर कार्रवाई के लिए तैयार रहें लेकिन यह आवाज शायद अपराधी भू माफियाओं और संगठित गिरोह के कानों तक नहीं पहुंच रही है। जिसका असर लखीमपुर-खीरी के 85 किलोमीटर दूर पलिया की विधानसभा में देखा जा रहा है बताया जाता है कि तहसील से लेकर ब्लाक की ग्राम विकास भूमि वन भूमि ताल तलियों की भूमि पर अवैध कब्जा किया जा रहा है जिसमें समय-समय पर कई मामले तमाम थानों में लंबित पड़े हुए हैं। जो चीख चीख कर बता रही हैं कि जब से उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार आई है तब से भू माफियाओ का एक विशेष वर्ग सरकार को बदनाम करने तथा रातों रात अमीर बनने के सपने के लिए इस अवैध घंधे को अंजाम दे रहा हैं इसी की आड़ में पलिया की दर्जनों ताल तलैया जो हिन्दुओं की आस्था का प्रतीक माना जाता था वह भी मिटाने का भू माफियाओं द्वारा काम किया जा रहा है। वही अगर हिन्दू समाज के लोगों की बात की जाए तो उन्होंने भी तमाम शिकायत तहसील ब्लाक थानों में दे चुके हैं लेकिन आज तक सिर्फ आस्वाशन ही मिला जबकि लोगों को मौजूद सरकार से एक आस थी कि वह पलिया में हिन्दू की आस्था वाली ताल तलैया को भू माफियाओं से बचा लेगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं जो भी संम्मानित पद पर बैठा वह सिर्फ अपनी कुर्सी के बारे में ही सोचता रहा किसी का भी ध्यान धर्म के आस्था तथा पूजने वाली ताल तलैया पर नहीं गया जो आज धीरे-धीरे सिमट कर भू माफियाओं के हाथों में चली गई जो आज बड़ी बड़ी इमारतों में तब्दील हो गई। अब देखना यह है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐसे अराजक तत्व के लोगों पर क्या कार्रवाई करते हैं।

0 Response to "आखिर किसके इशारे पर ताल तलैया व ग्राम समाज की भूमि पर हो रहा कब्जा"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4