-->

ad

मुख्यमंत्री योगी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित प्रदेश के पांच विजेताओं से की मुलाकात

मुख्यमंत्री योगी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित प्रदेश के पांच विजेताओं से की मुलाकात

प्रत्येक विजेता को 51,000 रु0 का चेक व टैबलेट देकर किया सम्मानित 

सचिन कुमार श्रीवास्तव

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2021’ से सम्मानित प्रदेश के 05 विजेताओं से आज यहां अपने सरकारी आवास पर भेंट की। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक विजेता को 51,000 रुपये का चेक व टैबलेट देकर सम्मानित किया। उन्होंने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं से संवाद किया तथा बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

मुख्यमंत्री ने ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आप सभी ने अलग-अलग क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया है, जिससे पूरा प्रदेश गौरवान्वित है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति में एक प्रतिभा होती है। 

     मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गीता में भगवान श्रीकृष्ण ने कहा है कि प्रत्येक व्यक्ति को निष्काम भाव से कर्म करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को जीवन में एक अवसर मिलता है, जो उसके जीवन का टर्निंग प्वाइंट होता है। अगर इस क्षण सकारात्मक निर्णय लिया जाए तो महानता के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। सफलता-असफलता की चिन्ता किये बिना ईमानदारी से प्रयास करना चाहिए। जो व्यक्ति ऐसे प्रयास करता है, उसे सफलता प्राप्त होती है और वह समाज के लिए अनुकरणीय भी बन जाता है।

इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव सूचना एवं एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

    ज्ञातव्य है कि जनपद लखनऊ के श्री व्योम आहूजा को कला एवं संस्कृति में, जनपद बाराबंकी के श्री कुंवर दिव्यांश सिंह को बहादुरी के लिए, जनपद गौतमबुद्धनगर के श्री चिराग भंसाली को इनोवेशन के लिए, जनपद अलीगढ़ के श्री मोहम्मद शादाब को शैक्षणिक क्षेत्र के लिए तथा जनपद प्रयागराज के श्री मोहम्मद राफे को खेल के क्षेत्र में इस वर्ष ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया है।

     जनपद लखनऊ के श्री व्योम आहूजा ने 09 से अधिक वाद्ययंत्रों को बजाने में सिद्धता हासिल की है। वह इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में 28 राष्ट्रीय रिकॉर्ड दर्ज करा चुके हैं। श्री व्योम ने मुख्यमंत्री जी को बताया कि उनकी इच्छा वेद-उपनिषदों में निहित विज्ञान के गहन अध्ययन की है। श्री व्योम ने मुख्यमंत्री जी के सामने ‘तेरी मिट्टी में मिल जावां’ गीत पर बांसुरी वादन भी किया। उन्हें कला-संस्कृति के क्षेत्र में इस वर्ष ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ दिया गया है।

0 Response to "मुख्यमंत्री योगी ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित प्रदेश के पांच विजेताओं से की मुलाकात"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4