-->

ad

जीवन शैली में बदलाव लाकर कैंसर से बचा जा सकता है :   पारुल सिन्हा

जीवन शैली में बदलाव लाकर कैंसर से बचा जा सकता है : पारुल सिन्हा

अमित कुमार

मसौली बाराबंकी। दसवीं वाहिनी पीएसी बाराबंकी मनोंरजन कक्ष में विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर उ०प्र० पुलिस फैमली वेलफेयर एसोसिएशन (वामा सारथी) परिवार कल्याण की अध्यक्षा  पारुल सिनहा ने कैंसर से बचाव के प्रति जागरूक किया।

सेनानायक राजेश कृष्ण की पत्नी एव वामा सारथी परिवार कल्याण की अध्यक्ष पारुल सिन्हा ने कहा कि कैंसर अब एक सामान्‍य रोग हो गया है जो किसी भी उम्र में हो सकता है। परन्‍तु यदि रोग का निदान व उपचार प्रारम्भिक अवस्‍थाओं में किया जावें तो इस रोग का पूर्ण उपचार संभव है। उन्होंने कहा कि कैंसर का सर्वोतम उपचार बचाव है। यदि मनुष्‍य अपनी जीवन-शैली में कुछ परिवर्तन करने को तैयार हो तो 60 प्रतशित मामलो में कैंसर होने से पूर्णतः रोका जा सकता है। कार्यक्रम के दौरान अध्यक्षा महोदया द्वारा उपस्थितआवासीय परिसर की औरतों एवं बच्चे/बच्चियों को कोविड-19 से बचाव हेतु हैण्ड सेनेटाइजर एवं मास्क वितरण कर बताया गया कोविड-19 के समस्त प्रोटोकॉल का नियमित पालन करें अनावश्यक घर से बाहर न निकलें।

10 वीं वाहिनीं पीएसी परिसर में संचालित पीएसी के चिकित्सक डॉ0 जाकिर हुसैन ने बताया गया कि कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचा जा सकता है यदि इसके शुरुआती लक्षण दिखने पर ही चिकित्सक से परामर्श लिया जाय साथ ही बताया गया कि विशेष कर कम उम्र के बच्चियों के देख भाल में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय।

इस दौरान डॉ0 एम0के0 गुप्ता एवं डॉ0 श्वेता सिंह द्वारा भी कार्यशाला में उपस्थित सभी लोगो को कैंसर के प्रति जागरूक किया गया।

0 Response to "जीवन शैली में बदलाव लाकर कैंसर से बचा जा सकता है : पारुल सिन्हा"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4