-->
वन दरोगा की मिलीभगत से वन माफिया चला रहे हरियाली पर आरा

वन दरोगा की मिलीभगत से वन माफिया चला रहे हरियाली पर आरा

अपराध संवाददाता

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के कोतवाली मलिहाबाद क्षेत्र अंतर्गत में प्रतिबंधित पेड़ों के कटने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है दिनदहाड़े बेखौफ होकर वन माफिया वन विभाग की मौन स्वीकृति से हरियाली पर आरा चला रहे हैं । मलिहाबाद वन क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पहाड़ पुर में लगभग 20 हरे भरे पेड़ों को वन माफियाओं ने आरा चला दिया है ।

फलपट्टी में अवैध कटान का यह पहला मामला नहीं है । इससे पहले भी वन माफिया बेखौफ होकर प्रतिबंधित आम नीम महुआ आदि के पेड़ों को काट रहे हैं । 

क्षेत्रीय वन सिपाही के संरक्षण में हो रहा अवैध कटान 

ग्रामीणों की मुताबिक क्षेत्रीय वन सिपाही दिलीप चौहान के संरक्षण में वन माफिया लगातार हरे भरे पेड़ों को काट रहे हैं । इतना ही वन सिपाही पर भ्रष्टाचार के द्वारा अकूत संपत्ति कमाने की भी जानकारी सामने आई है । वहीं यदि कोई ग्रामीण इसकी शिकायत विभाग के उच्च अधिकारियों को देता है तो वन सिपाही इसकी जानकारी वन माफियाओं को उपलब्ध करा देता है जिससे शिकायतकर्ता को वन माफिया द्वारा धमकी दी जाती है ।

ऐसा ही एक मामले में स्थानीय पत्रकार को सूचना देने पर वन माफिया द्वारा फर्जी मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दी गयी थी । गोपनीयता भंग करने की शिकायत करने पर भी विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई ।

गंभीर शिकायतों के बाद भी वन माफियाओं पर कार्यवाही ना होना विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों पर बड़ा सवाल खड़ा करता है ।

अगर ऐसे ही वन माफियाओं को वन विभाग के जिम्मेदार संरक्षण देते रहे तो हरियाली के दुश्मन वन माफिया हरे भरे पेड़ों को काटकर मानव जीवन के अस्तित्व के लिए खतरा पैदा कर देंगे ।

0 Response to "वन दरोगा की मिलीभगत से वन माफिया चला रहे हरियाली पर आरा"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4