-->
बाराबंकी : कोरोना और स्वच्छता पर आयोजित हुआ जागरुकता कार्यक्रम

बाराबंकी : कोरोना और स्वच्छता पर आयोजित हुआ जागरुकता कार्यक्रम

15 विजेता प्रतिभागियों को किया गया पुरस्कृत

ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह

बाराबंकी। मुंशी रघुनंनदन प्रसाद सरदार पटेल महिला पीजी कॉलेज में आज प्रादेशिक लोकसंपर्क ब्यूरो, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार, लखनऊ द्वारा कोविड-19 और स्वच्छता पर विशेष जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम के अंतर्गत विभाग द्वारा संगोष्ठी और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के 15 विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विभाग के अपर महानिदेशक आरपी सरोज रहे। साथ ही विभाग के संयुक्त निदेशक सुनील कुमार शुक्ल, कार्यक्रम प्रभारी राजेश बरनवाल और क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी जय सिंह भी इस कार्यक्रम के दौरान उपस्थित रहे। आपको बता दें कि प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो, लखनऊ और इसके अंतर्गत आने वाली 12 क्षेत्रीय लोकसंपर्क ब्यूरो द्वारा प्रदेश के विभिन्न जिलों में लगातार इस तरह के प्रचार अभियानों द्वारा लोगों को कोरोना वायरस के खिलाफ जागरूक करने की कोशिश की जा रही है। इसी क्रम में बाराबंकी जिले में यह प्रचार अभियान 15 जनवरी से शुरू होकर 24 जनवरी तक चलेगा। जिसके तहत सचल प्रदर्शनी के साथ-साथ लोक कलाकारों द्वारा संदेशमूलक सांस्कृतिक कार्यक्रमों को आयोजित किया जा रहा है।
इस मौके पर विभाग के प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो के अपर महानिदेशक आरपी सरोज ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि स्वदेशी वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित तथा प्रभावी है। लोग सोशल मीडिया पर चल रही भ्रामक अफवाहों पर बिलकुल ध्यान न दें बल्कि सरकार से संबंधित किसी भी खबर की पहले प्रामाणिकता जांच लें उसके बाद ही उस पर विश्वास करें। कोई भी व्यक्ति पत्र सूचना कार्यालय की वैबसाइट, ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप्प आदि माध्यमों की मदद से सरकार से संबंधित फेक न्यूज के बारे में पता कर सकता है।

आरपी सरोज ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के लिए दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम बीते 16 जनवरी से पूरे देश में शुरू हो चुका है। पहले चरण में सभी स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन दी जा रही है। अभी लगभग तीन करोड़ लोगों को यह वैक्सीन दी जाएगी। उसके बाद वैक्सीनेशन का दूसरे चरण का शुरू किया जाएगा। दूसरे चरण में लगभग 27 करोड़ फ्रंटवारियर्स को शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से देशवासियों ने धैर्य के साथ कोविड-19 का अभी तक मुकाबला किया है उसी धैर्य और अनुशासन के साथ हमें वैक्सीन भी लेनी होगी।

इस अवसर पर संयुक्त निदेशक सुनील कुमार शुक्ल ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वैक्सीन आ जाने का मतलब यह नहीं है कि हम पहले से बरती जा रही सावधानियों को छोड़ दें, बल्कि हमें और ज्यादा गंभीरता से सरकार द्वारा दिये जा रहे दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। 2021 के लिए प्रधानमंत्री जी द्वारा दवाई भी और कड़ाई भी का मंत्र दिया गया है और हमें इस मंत्र को समझना होगा।

कार्यक्रम में कॉलेज की प्रधानाचार्य डॉ. उषा चौधरी द्वारा विभाग का धन्यवाद करते हुए छात्राओं से अपील की गई कि कार्यक्रम में दी गयी जानकारी को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं। कार्यक्रम में क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी जय सिंह एवं डॉ मोनिका तिवारी द्वारा भी छात्राओं को स्वच्छता अपनाने के बारे में जागरूक किया गया।

0 Response to "बाराबंकी : कोरोना और स्वच्छता पर आयोजित हुआ जागरुकता कार्यक्रम"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4