-->
किसान मेला कृषि प्रदर्शनी का आयोजन संसद उपेंद्र रावत ने दीप जलाकर किया शुभारंभ

किसान मेला कृषि प्रदर्शनी का आयोजन संसद उपेंद्र रावत ने दीप जलाकर किया शुभारंभ

ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह

बाराबंकी। किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत  5 विकास खण्डों बंकी, हरख, रामनगर, दरियाबाद एवं हैदरगढ़ में किसान मेला, कृषक गोष्ठी एवं कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया गया, जिसमें जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ कृषि एवं सम्वर्गीय विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों के साथ ही भारी संख्या में क्षेत्रीय कृषक भी शामिल रहे।

विकास खण्ड बंकी का किसान मेला, कृषक गोष्ठी एवं कृषक प्रदर्शनी जनपद के पल्हरी प्रक्षेत्र प्रांगण में मुख्य अतिथि श्री उपेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। इस अवसर पर श्री अवधेष श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष, भाजपा, बाराबंकी, श्री हरगोविन्द  सिंह, पूर्व विधान परिषद सदस्य, डा0 आर0 के0 सिंह, संयुक्त कृषि निदेशक, राष्ट्रीय जलागम, उ0प्र0, श्री अनिल कुमार सागर, उप कृषि निदेशक, बाराबंकी, श्रीमती प्रीति किरन बाजपेई, जिला कृषि रक्षा अधिकारी, डा0 अष्विनी सिंह, कृषि वैज्ञानिक, बाराबंकी श्रीमती सरिता, खण्ड विकास अधिकारी, बंकी, बाराबंकी, पद्मश्री राम सरन वर्मा, प्रगतिशील कृषक के साथ ही कृषि एवं अन्य विभागों के अधिकारी कर्मचारी तथा भारी संख्या में क्षेत्रीय कृषकों विशेषकर महिला कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सांसद एवं मुख्य अतिथियों ने दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।

उप कृषि निदेशक श्री अनिल कुमार सागर द्वारा जनपद में कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी कृषकों को उपलब्ध कराई गई। साथ ही मृदा स्वास्थ्य कार्ड की संस्तुतियों के आधार पर संतुलित उर्वरकों एवं कृषि के साथ-साथ अन्य विधाओं के प्रयोग से कृषकों को उनकी आय दोगुनी करने के बारे में भी अवगत कराया गया। डा0 आर0 के0 सिंह, संयुक्त कृषि निदेषक, रा0जला0, उ0प्र0 द्वारा भारतीय प्राकृतिक कृषि पद्धति एवं जैविक खेती से होने वाले लाभों के बारे में विधिवत जानकारी देते हुये कृषकों से अपील की गई कि भविष्य जैविक उत्पादों का ही है। अतः किसान भाई रासायनिक खेती से जैविक खेती की ओर बढ़ें जिससे जहां एक ओर कृषकों के उत्पाद का अधिक मूल्य प्राप्त होगा वहीं अधिक गुणवत्तापूर्ण फसलों से समय-समय पर होने वाली बीमारियों हेतु भी प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है। कृषि वैज्ञानिक डा0 अष्विनी सिंह द्वारा रबी में फसलों में लगने वाले रोगों के बचाव, भूमि शोधन एवं बीज शोधन की जानकारी दी गई। श्री हरगोविन्द सिंह, मा0 पूर्व एम0एल0सी0 द्वारा कृषकों को उच्च तकनीकी का प्रयोग करते हुये उन्नतषील खेती के बारे में जानकारी दी गई। साथ ही कान्ट्रैक्ट फार्मिंग  के लाभों के बारे में भी अवगत कराया गया। जिलाध्यक्ष, भाजपा श्री अवधेष श्रीवास्तव द्वारा महिला कृषकों से भी बढ़चढ़कर उन्नतषील खेती में योगदान की अपील की गई। मुख्य अतिथि माननीय संसद श्री उपेन्द्र सिंह रावत जी द्वारा केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाने, जैविक खाद के प्रयोग एवं बर्मी कम्पोस्ट की उपयोगिता के बारे में अवगत कराते हुये बताया गया कि सरकार लगातार कृषकों के उत्थान हेतु प्रयासरत है। कृषकों का स्तर ऊपर उठाने एवं कृषि निवेशो की व्यवस्था हेतु पर्याप्त धनराशि की उपलब्धता हेतु ही माननीय प्रधानमंत्री जी, भारत सरकार के स्तर से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि येाजना का प्रारम्भ किया गया है जिसके अन्तर्गत कृषकों को प्रत्येक 03 माह पर रू0 2000 की किस्त उनके बैंक खातों में सीधे प्राप्त हो रही है।

इसके उपरान्त कृषि एवं अन्य विभागों के प्रगतिषील कृषकों, प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों आदि को प्रमाण पत्र वितरण किया गया। अन्त में उप कृषि निदेशक द्वारा किसान मेला गोष्ठी कृषि प्रदर्शनी में उपस्थित अतिथियों अधिकारियों एवं कृषकों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुये कार्यक्रम का समापन किया गया।

0 Response to "किसान मेला कृषि प्रदर्शनी का आयोजन संसद उपेंद्र रावत ने दीप जलाकर किया शुभारंभ"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4