-->
डॉक्टर बना हैवान, कैसे बचे जान घरों में उपयोग होने वाली चीजों से किया जा रहा ऑपरेशन

डॉक्टर बना हैवान, कैसे बचे जान घरों में उपयोग होने वाली चीजों से किया जा रहा ऑपरेशन

अस्पताल के ऑपरेशन रूम से सिलाई मशीन बरामद मौके पर भारी भीड़ उमड़ी

ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी विरेन्द्र

पलियाकलां खीरी। डॉक्टर को लोग भगवान के रूप में मानते हैं। मरीज का सही इलाज हो जाए तो डॉक्टर साहब भगवान से कम नहीं होते, लेकिन पलिया में डॉक्टर तो ठीक इसके उलट हो गए। आरोप है कि डॉक्टर ने उपचार के नाम पर हजारों रुपये परिजनों से ऐठै और धोखाधड़ी कर मरीज की जिंदगी से  खिलवाड़ कर जान ले ली। बताया जाता है की संपूर्णानगर रोड़ स्थित निजी चिकित्सा ले प्रेरणा हॉस्पिटल का मामला है जहां युवक का इलाज जबरन करने का दबाव बनाते हुए ऑपरेशन कर डाला तभी ऑपरेशन में लापरवाही हो गई और मौके पर ही युवक की जान चली गई जैसे ही या खबर सोशल मीडिया नेटवर्क पर वायरल हुई अस्पताल के बाहर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा और तमाम तरह तरह की लोगों में चर्चाएं होने लगी कुछ लोगों का कहना है कि जिस तरीके से नगरों में फर्जी रजिस्ट्रेशन पर अस्पताल चला रहे हैं और कोई सुविधाजनक चीजें नहीं होने के बावजूद बड़े बड़े ऑपरेशन और इलाज कराने का ठेका ले लेते हैं जैसे ही इलाज में लापरवाहियां होती हैं मौके पर सभी स्टाफ नर्स व डॉक्टर मरीज को छोड़कर फरार हो जाते हैं ऐसा ही मामला एक बार फिर से पलिया के संपूर्णानगर रोड पर स्थित निजी प्रेरणा हॉस्पिटल में देखने को मिला जहां डॉक्टर साहब मरीजों का ऑपरेशन करने के बाद कपड़े सिलाई करने वाली मशीन से सिलाई कर देते थे वाह रे भगवान कहने वाले डॉक्टर अगर इसी तरह के औजारों और जुगाड़ू चीजों को इस्तेमाल करते हुए ऑपरेशन करते रहे तो ना जाने कितने लोग मौत की गाल में समाते चले जाएंगे वहीं जिले पर बैठे आला अधिकारी भी तमाम नए-नए फर्जी डिग्री लेकर आए डॉक्टरों को अस्पताल खोलने का रजिस्ट्रेशन ऐसे दें रहे हैं जैसे रोड़ो पर लगने वाले ठेले हो अरे साहब अभी भी जाग जाओ क्यों लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहे हो।

0 Response to "डॉक्टर बना हैवान, कैसे बचे जान घरों में उपयोग होने वाली चीजों से किया जा रहा ऑपरेशन"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4