-->
जंगल से सटे थारू गाँव में कई पोल्ट्री फार्म गुलजार, जानवरों पर बर्ड फ्लू के संक्रमण का बढ़ा खतरा

जंगल से सटे थारू गाँव में कई पोल्ट्री फार्म गुलजार, जानवरों पर बर्ड फ्लू के संक्रमण का बढ़ा खतरा

ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी विरेन्द्र

पलियाकलां खीरी। विश्व विख्यात दुधवा नेशनल पार्क प्रशासन के उच्चाधिकारियों ने बर्ड फ्लू को लेकर जहाँ पूरे पार्क क्षेत्र में हाई अलर्ट जारी कर रखा है वही गौरी फंटा रेंज कई वर्षों से अंगद की तरह पैर जमाय बैठे कर्मचारी व अधिकारी पार्क प्रशासन की धज्जियाँ उड़ाने पर तुले हुए है। जिसके फलस्वरूप गौरी फंटा रेंज के अंतर्गत थारू गाँव में विना रोक टोक के कई पोल्ट्री फार्म गुलजार है। उल्लेखनीय हैं कि अति संवेदनशील कहे जाने वाले दुधवा नेशनल पार्क प्रशासन ने जंगली जीव जंतुओं की सुरक्षा की दृष्टि के चलते विना स्वस्थ्य परीक्षण के पालतू पशु पक्षियों की निकासी पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा रखा है किंतु गौरीफंटा रेंज के वन अधिकारी व कर्मचारी की खाउ कमाऊ नीति के चलते जहाँ थारू क्षेत्र के गांव वनगांव एवं कजरिया में लगभग एक दर्जन पोल्ट्री फार्म खुले आम चल रहे हैं उक्त पोल्ट्री फार्म के संचालक वन विभाग का संरक्षण होने के चलते मोहाना नदी घाट के जंगली रास्तो से अवैध रूप से मुर्गा,  मछली,अंडो, मवेशी की दोनों देश के लिये तस्करी कर रहे हैं जिसके चलते जहाँ वन संपदा का नुकसान हो रहा है वही जंगली जीव जंतु को संक्रमित होने की प्रबल संभावना बनी रहती है।

0 Response to "जंगल से सटे थारू गाँव में कई पोल्ट्री फार्म गुलजार, जानवरों पर बर्ड फ्लू के संक्रमण का बढ़ा खतरा "

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4