-->

ad

सशस्त्र सेना झण्डा दिवस‘‘ एवं ‘‘विजय दिवस‘‘ समारोह अत्यन्त हर्षोल्लास एवं परम्परागत तरीके से मनाया गया

सशस्त्र सेना झण्डा दिवस‘‘ एवं ‘‘विजय दिवस‘‘ समारोह अत्यन्त हर्षोल्लास एवं परम्परागत तरीके से मनाया गया

      ज़िला ब्यूरो तनवीर खान

    उन्नाव। सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय, उन्नाव के तत्वावधान में  आज ‘‘सशस्त्र सेना झण्डा दिवस‘‘ एवं ‘‘विजय दिवस‘‘ समारोह अत्यन्त हर्षोल्लास एवं परम्परागत तरीके से मनाया गया। श्री रवीन्द्र कुमार, जिलाधिकारी, उन्नाव इस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। 

जिलाधिकारी ने जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय स्थित शहीद स्मारक पर रीथ अर्पित कर शहीद सैनिकों को भावभीनी श्रृद्धान्जली दी। साथ में स्क्वाड्र्न लीडर मधु मिश्रा ने शहीद स्मारक पर रीथ और श्रृद्धा सुमन आर्पित कर भारत पाक युद्ध-1971 में जनपद उन्नाव के शहीद सैनिक सिपाही राम बालक मिश्र व लांस हवलदार अफजल अलीम वारसी को नमन करते हुए उनकी याद में जिलाधिकारी के साथ दो मिनट का मौन रखा।

इस पुनीत अवसर का शुभारम्भ स्क्वाड्र्न लीडर मधु मिश्रा द्वारा जिलाधिकारी ,उन्नाव के सशस्त्र सेना झण्डा दिवस का प्रतीक झण्डा लगाकर और कार्यालय का स्मृति चिन्ह देकर किया गया। जिलाधिकारी ने सशस्त्र सेना झण्डा दिवस-2020 के अवसर पर प्रकाशित ‘‘सैनिक स्मारिका‘‘ का विमोचन किया और दान पात्र में दान दिया।

जिलाधिकारी, उन्नाव के कर कमलों द्वारा जनपद उन्नाव के वयोवृद्ध पूर्व सैनिकों एवं उनकी वीर नारियों श्रीमती सत्यभामा, श्रीमती विद्या देवी, श्रीमती ऊषा देवी, श्रीमती मालती देवी, श्रीमती श्रीमतीदेवी, श्रीमती संजोगिता सिंह, श्रीमती गंगा देवी, नाॅन पेंशनर पूर्व सैनिक शीलेन्द्र कुमार को आर्थिक सहायता दी गयी। स्क्वाड्र्न लीडर मधु मिश्रा ने उपस्थित पूर्व सैनिकों एवं उनके आश्रितों को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत के जवान अत्यन्त कठिन से कठिन परिस्थितियों में धैर्य, संयम, पराक्रम एवं तीक्ष्ण वुद्धिमत्ता के साथ देश की सम्प्रभुता की रक्षा करते हैं। जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय उनके परिवारों के कल्याणार्थ सदैव खड़ा रहेगा। साथ ही पूर्व सैनिकों एवं उनके परिवारों के हितार्थ भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं जैसे-शैक्षिक सहायता, पुत्री विवाह अनुदान, पेन्युरी ग्रान्ट, प्रधानमंत्री स्काॅलरशिप, स्वतः रोजगार, सेवायोजन आदि की विस्तृत जानकारी दी, और इन योजनाओं से अधिक से अधिक लाभान्वित होने का आवाहन किया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी, उन्नाव ने कहा कि पूर्व सैनिकों में सामान्य व्यक्तियों से अधिक अनुशासन, ईमानदारी, कर्तव्यपरायणता और लगन होती है। ऐसी प्रबल ऊर्जा का उपयोग वे समाज, देश व प्रदेश की सेवा में करें। जिससे समाज की दशा और दिशा में सुधार होगा। जिला प्रशासन पूर्व सैनिकों व उनके आश्रितों के हितार्थ हर सम्भव मदद करेगा। साथ ही जिलाधिकारी ने जनपद के सरकारी, अर्धसरकारी, शैक्षणित संस्थानों, उद्योग ईकाईयों एव समस्त जनमानस से सशस्त्र सेना झण्डा दिवस फण्ड में अधिक से अधिक धनराशि दान किये जाने की अपील की है।

   इस समारोह में कोविड-19 महामारी के सम्बन्ध में निर्गत दिशा-निर्देशों का पूर्णरूप से पालन किया गया। इस अवसर पर कार्यालय के शिव प्रसाद, क0लि0, राकेश मिश्र, क0लि0, राजीव, कल्याण कार्यकर्ता, सुबेदार सीतेश सिंह, आ0 कैप्टन आर0पी0 सिंह, आ0 कैप्टन एस0पी0 यादव नायब सुबेदार मिर्जा इदरीस बेग, आ0 कैप्टन गोविन्द सिंह, सुबेदार राजेश कुमार मिश्र उपस्थित रहे।

0 Response to "सशस्त्र सेना झण्डा दिवस‘‘ एवं ‘‘विजय दिवस‘‘ समारोह अत्यन्त हर्षोल्लास एवं परम्परागत तरीके से मनाया गया"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4