-->

ad

 कमरिया बाग कब्रिस्तान में हो रहे अवैध निर्माण को रोकने के लिए एसडीएम सदर को दिया ज्ञापन

कमरिया बाग कब्रिस्तान में हो रहे अवैध निर्माण को रोकने के लिए एसडीएम सदर को दिया ज्ञापन

    ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह

    बाराबंकी। कमरियाबाग कब्रिस्तान कमेटी के सदस्यों ने  कब्रिस्तान में हो रहे अवैध निर्माण रोके जाने के संबंध में एसडीएम सदर अभय कुमार पांडे व नगर कोतवाली में प्रार्थना पत्र देकर निर्माण कार्य तत्काल रोके जाने व जांच कराकर दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की जिस पर एसडीएम सदर ने तत्काल कोतवाल नगर को आदेश दिया कि  निर्माण कार्य को तुरंत  रुकवा कर और जांच कर हमें जांच आख्या प्रेषित करें। एसडीएम सदर ने  कमेटी के सदस्यों को भरोसा दिलाया कि मौके की जांच अतिशीघ्र  कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

      इस मौके पर कमरिया बाग कब्रिस्तान के अध्यक्ष मोहम्मद नईम ने बताया कि गाटा संख्या  2745 पर जो अवैध निर्माण कर  कर रहे हैं उनको तत्काल रोका जाए जिस पर एसडीएम सदर ने कोतवाली को निर्देश दिया कि जांच कर आवश्यक कार्रवाई करें और निर्माण कार्य तुरंत मौके पर जाकर बंद कराने का भी आदेश दिया है। कमरिया बाग कब्रिस्तान आजादी से पहले कायम चला आ रहा है, यह नाम जेडे की जमीन है, जमीदारों की जमीन पर कब्रिस्तान कायम है। कुछ लोगों ने इसे आबादी घोषित करा कर फर्जीवाड़ा करके रजिस्ट्री आदि करा रहे हैं। इसी का यह प्रमाण है कि सुनीता चौरसिया पत्नी सुशील कुमार अभय नगर निवासी है जो यह बता रहे हैं कि यह मैंने रजिस्ट्री द्वारा खरीदा है। जुज भाग पर 7 फीट गड्ढा खोदकर कबरों को क्षतिग्रस्त किया व उनमे मिले हुए अवशेषों (हड्डी) इत्यादि मिट्टी के साथ में ट्रैक्टर-ट्राली द्वारा फेकवा दिया। कुछ अवशेष जल्दबाजी में वहीं पड़े हैं। जबकि हाईकोर्ट इलाहाबाद डबल बेंचो का आदेश है कि जमीन किसी की भी हो या कबरे बनी हुई है तो उसे कब्रिस्तान माना जाएगा।ये ईश्वर और अल्लाह की भी सम्पित है, इसी में लगाए पेड़ हो तो यह भी कब्रिस्तान की मिल्कियत मानी जाएगी ।बिना मानचित्र पास कराएं निर्माण  कराया जाना, 7 फीट गड्ढा खोदना कानूनन अपराध है, ऐसे व्यक्तियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई  की जाये । जब तक उक्त प्रकरण की पैमाइश ना हो तथा भू अभिलेखों की जांच ना होवे उस समय तक निर्माण रुकवाया जाना जनहित में आवश्यक है ।

     इस मौके पर मुख्य रूप से तैय्यब बब्बू ,ताज बाबा राईन, मो आसिफ एडवोकेट, सादिक हुसैन, हाफिज सलमानी, सिराजुद्दीन अंसारी, शकील सलमानी, शमीम चौधरी आदि लोग उपस्थित रहे।

0 Response to " कमरिया बाग कब्रिस्तान में हो रहे अवैध निर्माण को रोकने के लिए एसडीएम सदर को दिया ज्ञापन "

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4