-->
बीडीओ के साथ अभद्रता पर कई थानों की फोर्स पहुंची गांव

बीडीओ के साथ अभद्रता पर कई थानों की फोर्स पहुंची गांव

   हरीश शर्मा

मथुरा के गांव राल स्थित सरकारी गौशाला में पिछले कई दिनों से गोवंश की दुर्दशा के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने तथा ग्रामीण की सूचना पर रालोद नेता कुंवर नरेंद्र सिंह एवं ब्रजमंडल क्षत्रिय राजपूत महासभा के जिला अध्यक्ष ठाकुर मुकेश सिंह सिकरवार गांव राल पहुंचे। जहां सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने सरकारी गौशाला में गायों की दयनीय हालत के बारे में उन्हें अवगत कराया। 

ग्रामीणों के साथ गौशाला पहुंचे कुंवर नरेंद्र सिंह एवं ठाकुर मुकेश सिंह सिकरवार ने गौशाला में गोवंश की स्थिति को देखकर व्यवस्थाओं को लेकर सवाल उठाए। 

इस बीच हंगामा तब खड़ा हो गया जब मथुरा विकासखंड के बीडीओ के साथ अभद्रता हुई। अधिकारी के साथ अभद्रता की सूचना पर कई थानों का फोर्स एवं वृंदावन कोतवाली प्रभारी अनुज कुमार के साथ पीएसी बल भी मौके पर पहुंच गया।

इतना ही नहीं एसडीएम सदर क्रांति शेखर सिंह व सीओ सदर रमेश कुमार तिवारी से दोनों नेताओं की हल्की नोकझोंक भी हुई। कुंवर नरेंद्र सिंह ने व्यवस्थाओं को लेकर अधिकारियों से सवाल किए। वहीं अधिकारियों ने भी गौशालाओं में की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में उन्हें अवगत कराकर शांत कराया।

रालोद नेता कुंवर नरेंद्र सिंह ने बताया कि राल गौशाला में गोवंशो की दुर्दशा हो रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि देखरेख के अभाव में गायें मरणासन्न स्थिति में जीवन-जीने को मजबूर है। उन्हें जिंदा ही दफनाने की कोशिश की जा रही है। बताया कि गायों की दुर्दशा को लेकर उन्होंने अधिकारियों को भी अवगत कराया था लेकिन अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।

बताया कि उनके पूर्वजों द्वारा 200 एकड़ भूमि गोचरण के लिए दान में दी थी तथा हाईकोर्ट ने इन्हें गौशाला निर्माण के लिए 4.55 डेसिमिल जमीन पर निर्माण करने का आदेश दिया है। चेतावनी देते हुए कहा कि इससे ज्यादा जमीन पर प्रशासन द्वारा निर्माण किया गया तो अंजाम भुगतने होंगे। 

वहीं मौके पर पहुंचे एसडीएम सदर क्रांति शेखर सिंह ने बताया कि चरागाह की भूमि पर अवैध कब्जा करने के आरोप में कुछ ग्रामीणों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके विरोध में कुछ ग्रामीण कुंवर नरेंद्र सिंह और मुकेश सिंह सिकरवार के नेतृत्व में गौशाला पर जमा हुए थे।

उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के गौशाला पर जमा होने की सूचना पर उन्होंने बीडीओ श्वेतांक पांडे और जैत चौकी प्रभारी अरविंद सिंह को ग्रामीणों से बात करने के लिए राल गौशाला पर भेजा। लेकिन इस बीच किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके साथ अभद्रता की गई जिसके बाद भारी संख्या में यहां पुलिस बल बुलाया गया। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। सभी ग्रामीणों को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया गया है।

0 Response to "बीडीओ के साथ अभद्रता पर कई थानों की फोर्स पहुंची गांव"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4