-->
न सड़क न नाली,हर तरफ सिर्फ बदहाली

न सड़क न नाली,हर तरफ सिर्फ बदहाली

मयंक श्रीवास्तव

प्रयागराज। इस कोरोना महामारी में सभी जनमानस का जीवन अस्त-व्यस्त है चाहे वो स्वास्थ्य को लेकर के हो, आय को लेकर के हो,सफाई को लेकर के हो या जीवकोपार्जन को लेकर के हो और इन सब को बेहतर बनाने की कोशिश राज्य एवं केंद्र सरकार मिलके कर रही है। कोरोना वैक्सीन को ले के भी हमें सकारात्मक प्रभाव दिखा है। पर कहीं न कहीं हमारी सरकार 'सबका साथ सबका विकास' नारे को चरितार्थ करती दिख नही रही। हमारी चुनी हुई सरकार बड़े बड़े काम जैसे पुल बनवाना, कृषि संबंधित कानून, सड़क चौड़ीकरण, प्रदेशों में कानून व्यवस्था कड़ी रखना, अवैध आलीशान मकान का ध्वस्तीकरण करना इत्यादि बड़े जोरशोर से कर रही और ये प्रशंसनीय है पर कही न कही गांव का विकास इन सबसे छूटा हुआ है।

उत्तर प्रदेश में जिला प्रयागराज जो कि संगम,इलाहाबाद का किला, आनंद भवन,ट्रिपलआईटी जैसे जगहों की वजह से लोकप्रिय है वहां के गांव की हालत बेहद खराब है। पीपल गांव स्थित शिप्रा इंटर कॉलेज के पीछे असंख्य घर बने है पर न तो वहां सीवर लाइन है और न ही रोड अच्छी है और सारे घरो का हर तरीके का पानी खाली पड़े प्लाट पे जाता है जिससे उठती बदबू से पूरा इलाका परेशान है और इससे मलेरिया, डेंगू,टाइफाइड जैसी बीमारिया आने का खतरा कई गुना बढ़ रहा है।गांव के प्रधान से कई बार शिकायत की गई और  सीएम हेल्पलाइन पर भी की गई पर आश्वासन के अलावा कुछ जवाब नही मिला। सबसे हास्यास्पद ये है कि ठीक 100 मीटर पे एयरपोर्ट वाली रोड और 150 मीटर पर ट्रिपलआईटी  है जो कि काफी अच्छी है पर गांव में ऐसी सुविधाएं नही है। विगत 25 दिसंबर 2020 से प्रधान का कार्यकाल एकदम से खत्म कर दिया गया है और पंचायत का सारा काम अब प्रशासन देखेगी और शायद आने वाले समय मे नगर निगम के चुनाव हो तब गांव का भला हो।

0 Response to "न सड़क न नाली,हर तरफ सिर्फ बदहाली"

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4