-->

ad

शहर की खूबसूरती पर कहर बनकर टूट रहे हैं ओवरलोड वाहन

शहर की खूबसूरती पर कहर बनकर टूट रहे हैं ओवरलोड वाहन

      ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी विरेन्द्र

पलिया कलां खीरी। नगर की खूबसूरती पर कहर बनकर टूट रहे हैं पलिया में फर्राटा भरते गन्ना व ओवरलोड वाहन। जिस तरह से नगर में भारी भरकम बजट खर्च करके करोड़ों रुपए की लागत से नगर को खूबसूरत बनाने का कार्य प्रशासन द्वारा कराया जा रहा है, उस पर संकट की घड़ी मंडराने लगा है नगर को सुंदर बनाने के लिए रोड़ों को चौडीकरण किया जा रहा है और लोगों को चलने में दिक्कत ना हो इसको ध्यान में रखते हुए सरकार  भारी-भरकम बजट देते हुए कार्य को समय पर पूर्ण करने के दिशा निर्देश दे रही हैं। लेकिन वह कार्य कितना अहम साबित हो रहा है यह तो नगर में भारी भरकम ओवरलोड वाहन ही पोल खोलती नजर आ रही है नगर में बनी चौड़ीकरण रोड़ों के ऊपर ओवरलोड वाहन रोड़ को हानि तो पहुंचा ही रहे हैं साथ ही साथ रोड़ पर लगे स्ट्रीट लाइटों को गन्ना भरी ट्रैक्टर ट्रालियां और ट्रक तोड़ते हुए गन्ना मिल गन्ना पहुंचा रहे हैं यही नहीं नगर में 24 घंटे ओवरलोड वाहनों से हजारों लोगों को मौत का संकट मदरानी लगता है और बड़ी अनहोनी होने की आशंका बनी रहती है कई बार पलिया एसडीएम अमरेश कुमार ने कार्रवाई करते हुए कई गाड़ियों पर जुर्माना भी लगाया है उसके बावजूद भी नगर में गन्ना सेंटर व ओवरलोड वाहन फर्राटा भरते नजर आ रहे हैं आखिर क्या कारण है जो इन ओवरलोड वाहनों को करने पर मजबूर कर रहा है कहीं ऐसा तो नहीं गन्ना सेंटर के दबाव में आकर ओवरलोड वाहनों को अंजाम दिया जा रहा हो वही सभी नियमों को ताक पर रखकर ऊंचे ऊंचे ट्रकों व ट्रालियों में गन्ना भर कर भीड़ भाड़ इलाकों व व्यस्त रोड़ों से निकाल रहे हैं यही नहीं हजारों लोगों पर भी ट्रक व ट्रालियों के पलटने का खतरा मंडराता रहता है अब देखना यह है कि जिले के आला अधिकारी ऐसे वाहनों पर क्या लगाम कार्रवाई करता हैं जिससे ऐसे वाहनों पर लगाम लग सके।

0 Response to "शहर की खूबसूरती पर कहर बनकर टूट रहे हैं ओवरलोड वाहन"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4