-->
सीमा सील के बाद भी नेपालियों की आवाजाही तेज

सीमा सील के बाद भी नेपालियों की आवाजाही तेज


बड़ी संख्या में नेपालियों का बॉर्डर के बाजारों में लगता है जमवाड़ा


   ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी


    पलियाकलां-खीरी। भारत-नेपाल सीमा सील होने के बावजूद भी नेपालियों का भारत आना-जाना जारी है जबकि भारतीय नागरिकों को नेपाल जाने पर पूर्ण तरीके से नेपाल की ओर से रोक लगा दी गई है लेकिन नेपाल से सटे बाजार भानपुर, खजुरिया, संपूर्णानगर, बसही, सुमेर नगर, बिशन पुरी, गौरीफंटा, बनगवां, चंदन चौकी समेत तमाम बाजारों में नेपालियों की आवाजाही शुरू हो गई जबकि कोविड-19 के चलते भारत नेपाल सीमाओं को काफी दिनों से बंद किया जा चुका है और दोनों देशों की आवाजाही पर  रोक लगा दी गई थी बावजूद इसके भारतीय नियम कानून की सीधे तौर पर धज्जियां उड़ाते हुए नेपाल के प्रवासी मजदूर खुलेआम भारतीय क्षेत्रों में घूम रहे हैं यही नहीं कैरियरों का भी बड़ी संख्या में भारतीय बाजारों में आना जाना लगा रहता है। जबकि कोविड-19 के चलते भारतीयों के लिए नेपाल सीमा काफी दिनों से बंद है और दोनों देशों के बीच आवाजाही पर रोक लगा दी गई है लेकिन उसके बावजूद भी भारतीय नियम कानून की धज्जियां उड़ा कर नेपाली भारत में प्रवेश करते हुए बॉर्डर के बाजारों में खरीदारी कर रहे हैं एक कारण यह भी बताया जा रहा है कि नेपाल के संबंधों में भी लगातार खटास बनी हुई है लेकिन सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसी इन्हें रोकने की हिम्मत भी नहीं उठा रही है जिसके चलते किसी भी प्रकार के अनहोनी होने की संभावनाओं से नकारा भी नहीं जा सकता है एक सवाल यह भी उठता है कि आखिर भारतीय क्षेत्रों में नेपाली का आना जाना लगा हुआ है वह आखिर किस के आदेशों पर आ रहे हैं और इसका जिम्मेदार कौन है यह बताने वाला कोई भी नहीं है।


0 Response to "सीमा सील के बाद भी नेपालियों की आवाजाही तेज "

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4