-->
प्रशासन के निर्देश पर खाली हुई भूमि पर फिर हुआ अतिक्रमण बना चर्चा का विषय

प्रशासन के निर्देश पर खाली हुई भूमि पर फिर हुआ अतिक्रमण बना चर्चा का विषय


    ब्यूरो सगीर अमान उल्लाह


    बाराबंकी। तहसील रामसनेही घाट क्षेत्र में भूमाफियाओ पर अंकुश नहीं लग पा रहा हैं  हालत इतने बदतर हो गये हैं कि राजस्व प्रशासन की बजरिए पुलिस पैमाइश होने के बावजूद दबंगो ने चकमार्ग की जमीन पर जबरन कब्जा जमा रखा है। जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री से की गयी है। 
 


    मामला तहसील रामसनेही घाट क्षेत्र की ग्राम पंचायत पूरे दुनिया मजरे हकामी का है। यहां के निवासी अंकित सिंह पुत्र राजू सिंह का आरोप है कि उनके गांव के ही निवासी रामदेव पुत्र स्वरूप ने चकमार्ग की जमीन गाटा संख्या 104 पर जबरन कब्जा कर रखा है और वर्षी से अधिक चकमार्ग की जुताई करके उसे अपने खेत में मिलाकर उस पर बुआई कर रहे हैं। जबकि उनके द्वारा चकमार्ग की जमीन पर रामदेव द्वारा कब्जा किए जाने की शिकायत पर लेखपाल व पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में राजस्व टीम द्वारा  05 नवम्बर को उक्त चकमार्ग की जमीन पैमाइश करवाकर उसे चिन्हित करवाकर  अवैध कब्जे से मुक्त करने की हिदायत दी गई थी। इहके बावजूद रामदेव व धर्म शर्मा द्वारा संख्या 111 में चकमार्ग को मिला कर बरसीम की बुआई पुनः कर लिया है। विपक्षी के द्वारा चकमार्ग की जमीन पर जबरन कब्जा करने के कारण उसे आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है लेकिन विपक्ष जन किसी भी कीमत पर चकमार्ग की जमीन पर से कब्जा हटाने को तैयार नहीं है जिसके कारण अंकित सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को शिकायत कर चकमार्ग की जमीन अतिक्रमण मुक्त कराए जाने की मांग की है।


0 Response to "प्रशासन के निर्देश पर खाली हुई भूमि पर फिर हुआ अतिक्रमण बना चर्चा का विषय"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4