-->

ad

योगी सरकार में ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ सुविधाओं को जमकर लगाया जा रहा पलीता

योगी सरकार में ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ सुविधाओं को जमकर लगाया जा रहा पलीता


गर्भवती महिलाओं को आपात स्थिति में उठानी पड़ती है समस्यआ


 ब्यूरो चीफ़ अंकुल गिरी


पलियाकलां-खीरी।  परिवार कल्याण स्वास्थ्य उपकेंद्र कृष्णानगर पर स्वास्थ्य विभाग की तरफ से एनएम की तैनाती हुए लगभग ढाई माह से ज्यादा का समय बीत जाने के बावजूद स्वास्थ्य केंद्र पर नियमित नहीं बैठती हैं जिस कारण गर्भवती महिलाओं के साथ ही अन्य महिलाओं को भी अपने स्वास्थ्य संबंधी जांच आदि कराने के लिए ग्रामसभा से 35 किलोमीटर दूर शहर का सफर करना पड़ता है जिससे महिलाओं को असुविधा होती है खासकर गर्भवती महिलाओं को आपात स्थिति में समस्या उठानी पड़ती है। टीकाकरण करने वाले चुने दिन को ही स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचती है उसमें भी समय कोई निश्चित नहीं रहता है।


   आप सभी को अवगत कराते हुए बता दें कि संपूर्णनगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सभा कृष्णा नगर में शासन की तरफ से परिवार कल्याण स्वास्थ्य केंद्र कृष्णा नगर में महिला डॉक्टर एन एम की तैनाती हुए लगभग ढाई माह से ज्यादा का समय बीत चुका है परंतु एनएम केंद्र पर नियमित समय नहीं रुकती हैं जिस कारण ग्रामसभा की महिलाओं को अपने स्वास्थ्य संबंधी परामर्श व जांच के लिए ग्राम सभा से अन्यत्र दूरी लेकर जाना पड़ता है जिससे ना केवल धन हानि होती है बल्कि असुविधाओं का सामना भी करना पड़ता है खासकर गर्भवती महिलाओं को ज्यादा असुविधाएं होती हैं सरकार ने ग्राम वासियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए अच्छी खासी रकम खर्च कर स्वास्थ्य केंद्र बनवाने के साथ ही एनएम की तैनाती कर ग्राम सभा की लचर स्वास्थ्य व्यवस्था को सुदृढ़ करना चाहा परंतु स्वास्थ्य केंद्र के परिणाम को तैनात हुए ढाई माह से ज्यादा का समय बीत जाने के बावजूद नियमित ना बैठने से योगी सरकार तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं की योजनाओं को जमकर पलीता लगाया जा रहा है।


    प्रत्येक माह में निर्धारित टीकाकरण की तिथि को भी एनएम स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचती है उनका भी समय निश्चित नहीं होता टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य केंद्र पर सुबह पहुंचने पर लोगों को एन.एम के आने का घंटों इंतजार करना पड़ता है एन.एम अपने तैनाती ग्राम सभा को छोड़कर अन्यत्र रहती हैं। जबकि कृष्णा नगर ग्राम सभा की आबादी लगभग दो हजार से ज्यादा है जहां की महिलाओं के स्वास्थ्य से एनएम को कोई सरोकार नहीं है वही देखरेख के अभाव में लाखों खर्च कर बना परिवार कल्याण स्वास्थ्य केंद्र का भवन भी खस्ताहाल लोगों को मुंह चढ़ाता नजर आता है।


0 Response to "योगी सरकार में ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ सुविधाओं को जमकर लगाया जा रहा पलीता"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4