-->

ad

जिलाधिकारी द्वारा मण्डी परिसर में स्थित धान क्रय केन्द्रों का किया गया औचक निरीक्षण

जिलाधिकारी द्वारा मण्डी परिसर में स्थित धान क्रय केन्द्रों का किया गया औचक निरीक्षण


ब्यूरो शीराज़ मालिक 



   पीलीभीत : जिलाधिकारी  पुलकित खरे द्वारा आज मण्डी परिसर पीलीभीत में स्थित सरकारी धान क्रय केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के 04 क्रय केन्द्रों प्रभारी अनुपस्थित पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही करते हुये निलम्बित किया गया है, जिसमें पीसीएफ के  सर्वेश अवस्थी, पीसीयू के  अनुज कुमार तथा कल्याण निगम प्रथम व द्वितीय के केन्द्र प्रभारी श्री शिवराज सिंह को निलम्बित किया गया है।  निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा मण्डी परिसर के टिनशेड के अन्दर आढ़तियों के भरे बोरे लगे होने के कारण मण्डी सचिव पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कड़े निर्देश दिये कि मण्डी के प्रथम टिनशेड में सरकारी धान क्रय केन्द्रों का चुनावी प्रणाली के आधार पर लाइन से स्थापित किये जाये और प्रत्येक क्रय केन्द्र पर बड़ा बैनर जिसमें जिलाधिकारी, धान क्रय केन्द्र कंट्रोल रूम का नम्बर का उल्लेख किया जाये। उन्होने मण्डी में धान क्रय केन्द्रों को सुचारू रूप से संचालन व नियमित निगरानी हेतु प्रत्येक मण्डी पर मजिस्टेªट नामित किये गये है जिनकी देखरेख में किसानों का धान क्रय किया जायेगा। मण्डी व क्रय केन्द्रों पर आने वाले किसानों की संख्या को देखते हुये जिलाधिकारी द्वारा डिप्टी आरएमओ को रविवार को भी समस्त क्रय केन्द्र खोलने के निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा कि मण्डी परिसर के गेट पर किसानों हेतु टोकन व्यवस्था सुनिश्चित की जाये तथा समस्त केन्द्र प्रभारी टोकन के आधार के साथ साथ प्रथम आने वाले किसानों का धान खरीद की जाये। उन्होंने कहा कि आज शाम तक समस्त टिनशेडांे को खाली कराना सुनिश्चित किया जाये अन्यथा कठोर कार्यवाही की जायेगी।



  निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा मण्डी में लगे धान के ढेरों की नमी यंत्र से नमी की माप की गई। सभी ढेरों में नमी ठीकठाक पाई गई। परन्तु धान सरकारी क्रय केन्द्रों द्वारा नहीं खरीदे जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये डिप्टी आरएमओ को कडे़ निर्देश देते हुये कहा कि मण्डी में आने वाले समस्त किसान भाईयों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ प्रदान किया जाये और उनका धान बिचैलियों के हाथ न बिकने दिया जाये। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा मण्डी परिसर में स्थित धान क्रय केन्द्र आरआरएफसी, आरआरएफसी-2, पीसीयू, यूपी एग्रो, यूपीएसएस, एसएफसी, एफसीआई व पीसीयू की दैनिक व अबतक खरीद लक्ष्य की समीक्षा की गई। समस्त केन्द्रों द्वारा लक्ष्य न पूर्ण किये जाने पर इस माह का वेतन रोकने के कडे़ निर्देश दिये गये। समस्त केन्द्र प्रभारियों को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि किसानों को अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाये और शासन की मंशा के अनुरूप धान खरीद सुनिश्चित की जाये शिकायत पाये जाने सम्बन्धित विरूद्व कठोर कार्यवाही की जायेगी।  


  निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा धान क्रय केन्द्र प्रभारी को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि मण्डी परिसर में आने वाले समस्त किसानों के धान की नियमित खरीद की जाये। इस दौरान किसान बन्धुओं की शिकायत का संज्ञान लेते हुये डिप्टी आरएमओ व मण्डी सचिव को निर्देशित करते हुये कहा कि किसानों को टोकन, पंजीकरण या नमी जैसी समस्याओं को लेकर किसी भी दशा में परेशान न किया जाये और केन्द्र पर आने वाले प्रत्येक किसान का धान क्रय किया जाये, यदि अतिरिक्त काटो की आवश्यकता हो तो और लगाना सुनिश्चित किया जाये। डिप्टी आरएमओ को कड़े निर्देश देते हुये कहा कि क्रय केन्द्र पर आये धान का नियमित उठना कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। 


  निरीक्षण के दौरान नगर मजिस्टेªट  अरूण कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी  योगेश कुमार, उप जिलाधिकारी  रामदास, जिला विपणन अधिकारी  अविनाश झा, मण्डी सचिव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


0 Response to "जिलाधिकारी द्वारा मण्डी परिसर में स्थित धान क्रय केन्द्रों का किया गया औचक निरीक्षण"

टिप्पणी पोस्ट करें

Ad

ad 2

ad3

ad4